Friday, 24 November 2017

Interesting Facts About Holi In Hindi-होली के बारे में दिलचस्प रोचक तथ्य

आप लोगो को तो पता ही होगा होली के बारे में लेकिन यह नहीं पता होगा की होली मनाई क्यों जाती है और इस दिन क्या हुआ था तो आइये हम आप लोगो को होली के बारे में कुछ ऐसे तथ्य बताएँगे जो आज तक आपलोगों ने कभी नहीं सुना होगा न ही कही पढ़ा होगा तो आइये हम आप लोगो को होली के बारे में कुछ रोचक तथ्य बता दे ...

होली के बारे में दिलचस्प रोचक तथ्य -Interesting Facts About Holi In Hindi 




1. पहले दिन होलिका को जलाया जाता है. जिसे होलिका दहन भी कहते है |

2. होली का त्यौहार होली, होलिका व होलाका नाम से भी जाना जाता है |

3. यह त्यौहार फाल्गुन मास की पूर्णिमा को मनाया जाता है |

4. यह त्यौहार रंग और राग का संगम है, इसलिए लोग रंग खेलने के साथ-साथ नाचते गाते भी है |

5. यह भारत के अलावा नेपाल और अन्य भारतीय प्रवासी देशो में धूमधाम से मनाया जाता है |

6. वसंत ऋतु में मनाया जाने वाला त्यौहार होली भारत के प्रमुख त्योहारो मे से एक है |

7. होली का त्योहार प्रहलाद, हिरणाकश्यप व होलिका की धार्मिक कहानी से जुड़ी हुई है |

8. रंगो का यह त्यौहार प्रमुख रूप से दो दिन तक मनाया जाता है |

9. लोग इस दिन घर – घर जा कर एक – दुसरे को होली लगाते है |

10. होली का पर्व भारत में काफी पुराने वक्त से मनाया जा रहा है, जिसका जिक्र प्राचिन साहित्यों में मिलता है , सुप्रसिद्ध मुस्लिम पर्यटक अलबरूनी ने भी अपने ऐतिहासिक यात्रा संस्मरण में होलिकोत्सव का वर्णन किया है |

11. शाहजहां के जमाने में होली को ईद-ए-गुलाबी कहा जाता था |

12. भारत के कई हिस्सों में होली को पांच दिनों तक भी मनाते है |

13. ऐसा मान लिया जाता है की एक इस दिन अधिकतर लोग अपना बैर दुश्मनी भुलाकर होली लगाकर एक दुसरे के दोस्त बन जाते है. यह त्योहार आपसी प्रेम की निशानी है |

14. इस त्यौहार को बड़े धूमधाम से नेपाल और भारतीय प्रवासी देशो में मनाया जाता है |

15. भारत में व्रज, मथुरा, वृन्दावन और बरसाने की लट्ठमार होली व श्रीनाथजी, काशी आदि की होली बहुत ही प्रसिद्ध है |

16. लोगो को होली में रंगों का सही ढंग से उपयोग करना चाहिए. केमिकल से बने रंगों से हमेशा बचना चाहिए |

17. दूसरे दिन लोग एक दुसरे को रंग व अबीर गुलाब लगाते है जिसे धुरड्डी व धूलिवंदन कहा जाता है |

18.  इस दिन भगवान कृष्ण ने पूतना नाम की राक्षसी का वध किया था इसलिए इस त्यौहार की बृज में बहुत मान्यता है |
loading...

No comments:

Post a comment