Monday, 23 July 2018

Kajol Biography In Hindi - काजोल की जीवनी

Kajol Biography In Hindi - काजोल की जीवनी 


काजोल ने अपने बॉलीवुड करियर में खुद को एक लाजवाब और बेहतरीन एक्ट्रेस साबित किया। इसके साथ-साथ उन्हें बहुत से अवार्ड भी मिल चुके है। जिनमे छः फिल्मफेयर अवार्ड, 12 फिल्मफेयर नामनिर्देशन भी शामिल है। इसेक साथ ही उन्होंने बेस्ट एक्ट्रेस के पाँच फिल्मफेयर अवार्ड जीते है जो अपनेआप में ही एक रिकॉर्ड है। 2011 में भारत सरकार ने उन्हें भारत के चौथे सर्वोच्च अवार्ड पद्म श्री से सम्मानित किया था।


काजोल का जन्म मुंबई में मुखर्जी-समर्थ फिल्म परिवार में हुआ था। उनकी माता तनूजा एक एक्ट्रेस है और उनकी पिता शोमू मुखर्जी एक फिल्म डायरेक्टर और प्रोड्यूसर थे। 2008 में कार्डियक अरेस्ट आने की वजह से उनके पिता शोमू की मृत्यु हो गयी थी। काजोल की छोटी बहन तनिषा मुखर्जी भी एक एक्ट्रेस ही है। उनकी आंटी नूतन भी एक एक्ट्रेस ही थी और उनकी नानी शोभा समर्थ और परदादी रतन बाई दोनों ही हिंदी सिनेमा से जुडी हुयी थी। उनके पैतृक अंकल जॉय मुखर्जी और देब मुखर्जी, दोनों फिल्म प्रोड्यूसर थे जबकि पैतृक दादा सशाधर मुखर्जी एक फिल्मनिर्माता थे। काजोल के भाई-बहनो में रानी मुखर्जी, शर्बानी मुखर्जी और मोहनीश बेहल शामिल है, जो सभी बॉलीवुड में शामिल है।


अपने बचपन का वर्णन करने हुए काजोल खुद को बहुत ही शरारती बताती है। उन्होंने बताया की वह किशोरावस्था से ही बहुत जिद्दी थी। उनके अनुसार जब वह अल्पावस्था में ही थी तभी उनके माता-पिता अलग हो चुके थे, लेकिन तनूजा के अनुसार काजोल पर उनके अलग होना का कोई प्रभाव नही पड़ा था। माँ ना होने की वजह से काजोल की नानी और दादी काजोल का ख्याल रखती थी। अपनी नानी की तरफ देखते हुए काजोल हमेशा कहती है की, “मेरी नानी ने मुझे कभी मेरी मम्मी की कमी महसूस नही होने दी” । काजोल के अनुसार उनका पालन पोषण बंगाली और महाराष्ट्रियन दोनों संस्कृतियों में हुआ था।

काजोल ने पंचगनी की सेंट जोसफ कॉन्वेंट बोर्डिंग स्कूल से प्राथमिक शिक्षा ग्रहण की थी। पढाई के अलावा वह स्कूल के दिनों में दूसरी गतिविधियों में भी हिस्सा लेती थी, उन्हें डांस करना बहुत पसंद था। स्कूल के दिनों से ही काजोल को पढने और एक्टिंग का काफी शौक था। इसके बाद उन्होंने एक्टिंग के क्षेत्र में राहुल रवैल की फिल्म बेखुदी में काम करना शुरू किया। गर्मी की छुट्टियों में फिल्म की शूटिंग पूरी करने के बाद काजोल वापिस स्कूल आ गयी। इसके बाद एक्टिंग में ही फुल-टाइम करियर बनाने के लिये उन्होंने पढाई छोड़ने की ठानी।

काजोल ने एक्टिंग में पर्दापण एक असफल रोमांटिक ड्रामा फिल्म बेखुदी (1992) से किया था, उस समय में स्कूल में जाती थी। इसके बाद एक्टिंग सिखने के लिये उन्होंने पढाई छोड़ दी, और उनकी पहली कमर्शियल सफल फिल्म थ्रिलर बाज़ीगर (1993) थी। इसके बाद उन्होंने बहुत सी रोमांटिक ड्रामा फिल्मे भी की जिनमे उन्हें काफी सफलता मिली, उन फिल्मो में शाहरुख खान के साथ दिलवाले दुल्हनियाँ ले जायेंगे (1995), सलमान खान के साथ प्यार किया तो डरना क्या (1998), प्यार तो होना ही था (1998), कुछ कुछ होता है (1998) और कभी ख़ुशी कभी गम (2001)। 1997 में आयी फिल्म गुप्त में उनके द्वारा किये गए रोल की लोगो ने काफी प्रशंसा भी की। इसके बाद 1998 में आयी फिल्म दुश्मन में उनके किरदार की आलोचकों ने काफी प्रशंसा की। 2001 के बाद कुछ समय तक फिल्मो से दूर रहने के बाद 2006 में उन्होंने आमिर खान के साथ फिल्म फना की और फिर ड्रामा फिल्म यु, मी और हम की (2008), माय नेम इस खान (2010), वी आर फॅमिली (2010) और कॉमेडी ड्रामा फिल्म दिलवाले (2015) की। इन फिल्मो से ही उन्होंने खुद की भारत की सबसे सफलतम एक्ट्रेस साबित किया।

फिल्मो में एक्टिंग करने के साथ-साथ काजोल एक सामाजिक कार्यकर्ता भी है। उन्होंने विधवा महिलाओ और अनाथ बच्चो के हीत में बहुत से कार्य किये है। जिसके लिये उन्हें सन 2008 में कर्मवीर पुरस्कार भी दिया गया था। इसके बाद जी टीव्ही के रियलिटी शो, रॉक-एन-रोल फॅमिली में काजोल जज भी बनी थी और साथ ही वह देवगन एंटरटेनमेंट एंड सॉफ्टवेयर लिमिटेड में मेनेजर के पद पर भी कार्यरत है।

Kojal personal life story

फिल्मो में काम करते ही काजोल ने एक्टर अजय देवगन को डेट करना शुरू किया, 1994 में जब गुंडाराज की शूटिंग कर रहे थे तभी दोनों एक दूजे से प्यार करने लगे थे। दोनों का रंग अलग अलग होने की वजह से मीडिया के कुछ लोग उनकी काफी आलोचना भी कर रहे थे। लेकिन देवगन ने अपने रिश्ते के बारे में बताते हुए कहा था किम “हमने कभी रोज एक-दूजे को आय लव यु बोलने के लिये प्यार नही किया, ना ही हमारे बीच कोई प्रपोसल हुआ। बल्कि हम एक दूजे के साथ बड़े होते गए। शादी के बारे में हमने कभी सोचा तक नही था लेकिन: कभी ना कभी हो ही जाती।” अंततः 24 फरवरी 1999 को उन दोनों ने महाराष्ट्रियन तरीको से शादी कर ही ली। काजोल हमेशा कहती है की उन्होंने फिल्म करना पूरी तरह नही छोड़ा। शादी होने के बाद काजोल, देवगन के घर पर रहने लगी थी।

Kajol movie list


गुप्त : दी हिडन तरूर
दुश्मन
प्यार तो होना ही था
कुछ कुछ होता है
कभी ख़ुशी कभी गम
फना
यु, मी और हम
माय नेम इस खान
वी आर फॅमिली
दिलवाले


Kajol Facts In Hindi 

1- काजोल मुखर्जी खानदान की चौथी पीढ़ी हैं।  काजोल वेटरन एक्ट्रेस रत्ना बाई की परपोती हैं। 
2-कपूर फैमिली के बाद बॉलीवुड में मुखर्जी परिवार का भी काफी योगदान है।
3-  काजोल बॉलीवुड की अकेली ऐसी अभिनेत्री हैं जिन्हे नेगेटिव रोल के लिए फिल्मफेयर अवार्ड से सम्मानित किया गया।
4- काजोल बॉलीवुड की दूसरी अभिनेत्री हैं जिन्हे पांच फिल्म फिल्मफेयर बेस्ट एक्ट्रेस अवार्ड से नवाजा गया हैं।  काजोल की मौसी नूतन को भी पांच फिल्मफेयर बेस्ट एक्ट्रेस अवार्ड से सम्मनित किया जा चूका है।
5 - क्या आप जानते हैं बाजीगर में प्रिया चोपड़ा के रोल के लिए डायरेक्टर्स की पहली पसंद श्रीदेवी थी, लेकिन उन्होंने डेट्स ना होने के कारण फिल्म निर्देशक को मना कर दिया , और फिल्म आकर गिरी काजोल की झोली में।  इसके साथ ही काजोल की यह फिल्म पहली सुपरहिट साबित हुई।
6- सिल्वर स्क्रीन पर काजोल-शाहरुख़ की जोड़ी ने हमेशा हिट फ़िल्में दी हैं।
7 - निर्देशक करण जौहर काजोल को अपना लकी चार्म मानते हैं, इसलिए वह उनकी फिल्म की हीरोइन होती हैं या फिर उनका फिल्म में कैमियो ।
8- काजोल बहुत बड़ी शिवभक्त भी हैं।  वह हमेशा ओम नाम की रिंग पहनती हैं। 
loading...

No comments:

Post a comment