Saturday, 7 November 2020

World Facts In Hindi-दुनिया के बारे में रोचक तथ्य

1. क्या आपने कभी सोचा है कि पूरी दुनिया में हर एक मिनट में कितने जन्म होते है? इसका उत्तर है 255. इसका मतलब हर सेकंड में 4.3 बच्चे.

2. बच्चा जब पैदा होता हैं तब उसके शरीर में एक भी बैक्टीरिया नही होता.

3. नवजात शिशु अपने जन्म के कुछ हफ़्तों तक सिर्फ black & white ही देख सकते हैं, कुछ हफ़्तों बाद उनको सबसे पहला रंग जो दिखता है वो है लाल रंग।

4. मनोविज्ञानिक मानते है कि बच्चे अपने जन्म के कुछ सालों तक सपना नहीं देखते हैं.

5. एक बच्चे में एक आदमी के मुकाबलें 60 हड्डिया ज्यादा होती हैं.



6. अमेरिका में हर साल 1 लाख बच्चे जन्म से ही कोकिन के आदी पैदा होते हैं क्योकिं उनकी माँ ने प्रेग्नेंसी के दौरान ड्रग्स लिया था.

8. कई शोध बताते हैं, कि समय से पहले होने वाले ज्यादातर बच्चे Left handed होते हैं.

9. चीन में हर 30 सैकेंड में एक अपंग बच्चा पैदा होता हैं.

10. जो महिलाये अपनी प्रेगनेंसी के दौरान खर्राटे लेती हैं उनके बच्चे औरों की तुलना में छोटे होते हैं.

11. अगर किसी महिला को प्रेगनेंसी के दौरान किसी अंग को कोई हानि पहुचती है तो गर्भाश्य में पल रहा बच्चा उस अंग को ठीक करने के लिए स्टेम सेल्स भेजता हैं.

12. 1838 से 1960 के बीच खींचे गए आधे से ज्यादा फोटो बच्चों के थे.

13. 50,000 में से एक बच्चा ऐसा पैदा होता हैं जिसके जन्म से ही गुर्दे नही होते. 14. एक बच्चे की डाॅक्टरों की दी हुई डेट पर पैदा होने की संभावना बस 4% होती हैं. 15. जर्मनी, डेनमार्क, आइसलैंड व कुछ और देशो में बच्चो के नाम रखने के लिए कुछ नियम follow करने पड़ते हैं. 16. एक बच्चे का दिमाग बच्चे को दिए गए ग्लूकोज में से 50% ग्लूकोज का यूज़ कर लेता है, इसीलिए बच्चे इतना ज्यादा सोते हैं. 17. छोटे लड़के और लड़कियों में से 5% दूध दे सकते हैं. इसका कारण होता है कि गर्भ अवस्था के दौरान मां के हारमोन्स का ज्यादा रिस जाना.

18. Cochlear ear-kiss injury, नाम की एक condition है जो बताती है कि बच्चे के कान पर kiss करने से वह बहरा हो सकता हैं.

19. एक नवजात शिशु में सिर्फ 1 कप खून होता हैं.

20. बच्चे अपने जन्म के 5 महीने बाद ही वजन में दोगुने हो जाते हैं. आप होकर दिखाए 5 महीने में दोगुने तो मानूँ.

21. जब आप पैदा हुए थे तो आपके चखने की इंद्रिया आपकी जीभ के साथ-साथ आपके मुंह के ऊपर, पीछे व दोनों तरफ भी थी.

22. छोटी बच्चियों के भी पीरियड, और सभी बच्चो के स्तन व दूध होते हैं.

23. बच्चों का लिंग गर्भाशय में और पैदा होते हुए भी खड़ा होता हैं.

24. बच्चे अपनी जिंदगी के पहले तीन महीने तक अपने से 8 या 9 इंच की दूरी तक ही देख सकते हैं. यह दूरी आपको देखने के लिए काफी है जब आप उसे पकडे हुए है या उसे दूध पिला रही होती है और यही दूरी उसे अपने हाथों और अपने पूरे शरीर को देखने के लिए काफी होती हैं.

25. जन्म लेने के 10 मिनट बाद बच्चे में इतने दिमाग का विकास हो जाता है कि वो ये समझ जाता है कि आवाज किस तरफ से आ रही हैं.

26. हर तीन में से एक शिशु के शरीर पर जन्म से ही एक निशान (Birth mark) होता हैं और लड़कियों में लड़कों की तुलना में दोगुने होते हैं.

27. एक 3 साल के बच्चे की आवाज 200 लोगो से भरे हुए एक रेस्टोरेंट में सबसे तेज होती हैं.

28. टेलिविजन देखना बच्चो के लिए दर्द की एक प्राकृतिक दवा हो सकती हैं.

29. पिता अपने बच्चों की हाईट और माता उनके वजन पर ज्यादा ध्यान देती हैं.

30. हर दिन 12 नव जन्में बच्चे किसी ओर माँ-बाप को दे दिए जाते हैं.

31. 7 महीने तक बच्चे एक ही समय में साँस ले सकते है और निगल सकते हैं. लेकिन हम ऐसा नही कर सकते.

32. Michigan की एक महिला ने अपने बच्चों को 8/8/8 , 9/9/9 तथा 10/10/10 को जन्म दिया.

33. सन् 1980 के बाद जुडवाँ बच्चे पैदा होने की संभावना 76% तक बढ़ गई हैं.

34. अमेरिका में हर साल जितने बच्चे पैदा होते है उससे ढाई गुना ज्यादा बार्बी डॉल बेचीं जाती हैं.

35. गर्भ में सब बच्चों के मूछ बढ़ती है जो बाद में पूरे शरीर को ढक लेते है, बच्चा बाद में इन्हीं मुलायम बालों जिनको Lanugo कहते है को खाता है, और इसको पैदा होने के बाद सबसे पहले निकलने वाले मल के साथ निकाल देते है इस क्रिया को Meconium कहते हैं.

36. बच्चे इंसानी आवाज को पसंद करते है और और यही कारण होता है कि वह सबसे पहले शब्दो का अनुसरण(imitate) करते है न की एक फ़ोन के बजने की आवाज को.

37. पहले छह महीने तक बच्चे अलग-अलग इंसानो के बीच और बंदरो के बीच का अंतर पहचान सकते है, नो महीने तक वो बंदरो के बीच का अंतर पहचानने की क्षमता खो देते है पर इंसानो को पहचानने की क्षमता पूरी उम्र तक रहती हैं.

38. गर्भ में पल रहा बच्चा म्यूजिक सुनने पर ज्यादा प्रतिक्रिया करता हैं.

Bhagwan Krishna Facts In Hindi-भगवान कृष्णा के बारे मे रोचक तथ्य

1. भगवान कृष्ण के कुल 108 नाम हैं, जिनमें गोविंद, गोपाल, घनश्याम, गिरधारी, मोहन, बांके बिहारी, बनवारी, चक्रधर, देवकीनंदन, हरि, और कन्हैया प्रमुख हैं.
2. अपने गुरु संदिपनी को गुरु दक्ष‍िणा देने के लिए भगवान ने उनके मृत बेटे को जीवित कर दिया था.
3. श्रीकृष्ण की कुल 16108 पत्न‍ियां थीं, जिनमें से 8 पटरानी हैं.
4. कृष्ण, देवकी की आठवीं संतान थे. सातवीं संतान बलराम थे. भगवान ने बाकी छह को भी देवकी से मिलवाया था.
5. श्रीकृष्ण से भगवत गीता सबसे पहले अर्जुन ने नहीं, बल्क‍ि हनुमान और संजय ने सुनी थी. हनुमान कुरुक्षेत्र के युद्ध के दौरान अर्जुन के रथ में सबसे ऊपर सवार थे.


6. ऐसा कहा जाता है कि श्रीकृष्ण के मानव अवतार का अंत एक शिकारी के तीर से हुआ था.

Rabindranath Tagore Biography in Hindi - रविन्द्रनाथ टैगोर की जीवनी

Rabindranath Tagore Biography in Hindi | रविन्द्रनाथ टैगोर की जीवनी

 

गुरुदेव रवीन्द्रनाथ टैगोर (Rabindranath Tagore) कवि ,लेखक , दार्शनिक ,चित्रकार एवं प्रख्यात शिक्षाविद भी थे | उनका जन्म 7 मई 1861 को देवेन्द्रनाथ टैगोर एवं शारदा देवी के यहाँ हुआ | वे अल्पायु से ही कविताये रचने में लगे थे | मात्र 13 वर्ष की आयु में “तत्व बोधिनी” नामक पत्रिका में उनकी अभिलाषा नामक कविता प्रकाशित हुयी | कोलकाता के सेंट जेवियर स्कूल में शिक्षा पाने के बाद वे 1878 में अपने भाई सत्येन्द्रनाथ के साथ इंग्लैंड गये |

1880 में रविन्द्रनाथ (Rabindranath Tagore) अधूरी शिक्षा के साथ भारत लौट आये | 9 दिसम्बर 1883 को उनका विवाह मृणालिनी देवी से हुआ | 1884 में वे आदि ब्रह्म समाज के अध्यक्ष नियुक्त किये गये | वे अपने समय के विख्यात लेखको में से थे | 1891 में उन्होंने पोस्टमास्टर सहित छ लघुकथाये लिखी | राजशाही एसोसिएशन के आग्रह पर उन्होंने शिक्षा की पद्धति  की आलोचना “शिक्षेर हेर-फेर” लिखी | उन्होंने मातृभाषा को शिक्षा का माध्यम बनाने पर बल दिया | इसी दौरान वे “साधना” के सम्पादक भी बने |

1901 में उन्होंने शांतिनिकेतन में विद्यालय की स्थापना की | उसी वर्ष उन्होंने “बंगदर्शन” का भार सम्भाला एवं अगले पाँच वर्ष तक उसका सम्पादन किया | उन्होंने “चोखेर बाली” एवं “नौका डूबी” जैसे उपन्यास भी लिखे | रविन्द्रनाथ (Rabindranath Tagore) गांधीजी के समर्थको में से थे | उन्होंने 1905 में हुए बंगाल विभाजन का विरोध किया | उस दिन उन्होंने बंगाल में परस्पर एकता की भावना विकसित करने के लिए रक्षाबंधन समारोह का आयोजन किया | 1912 में लन्दन की इंडियन सोसाइटी ने उनकी “गीतांजलि” प्रकाशित की |

अगले ही वर्ष मैकमिलन से गीतांजली , द क्रीसेट मून , द गार्डनर एवं चित्रा के अंग्रेजी संस्करण प्रकाशित हुए | 13 नबम्बर 1913 को उन्हें साहित्य के लिए नोबल पुरुस्कार से सम्मानित किया गया | दो वर्ष बाद अंग्रेज सरकार ने उन्हें नाईटहुड की उपाधि दी | 1918 में उन्होंने विश्वप्रसिद्ध “विश्वभारती” की नींव रखी | एवं शिक्षा के क्षेत्र में प्रयोग किये | भारत की राजनीतिक दशा से वे अप्रसन्न थे | जलियांवाला बाग़ हत्याकांड के विरोध में उन्होंने “नाईटहुड” की उपाधि त्याग दी |

विश्वभारती के लिए चंदा एकत्र करने के लिए वे विश्व भ्रमण पर निकले | वे इंग्लैंड ,फ्रांस , स्विटजरलैंड , जर्मनी और USA गये | बाद के वर्षो में वे चित्र भी बनाने लगे | भारत तथा विश्व के अन्य देशो में उनकी कई चित्र प्रदर्शनिया आयोजित की गयी | 1940 में Oxford University ने उन्हें मानद उपाधि प्रदान की | 7 अगस्त 1941 को 80 वर्ष की आयु में उनका निधन हो गया |

Bhagwan Vishnu Biography In Hindi-भगवान् बिष्णु की जीवन कथा

भगवान विष्णु के अवतार श्रीकृष्ण की कई लीलाओं के बारे में आपने सुना ही होगा . लेकिन क्या आपने कभी श्रीकृष्ण के गुरु के बारे में सुना है. उनसे जुड़ी कहानियों को पढ़ा है अगर नहीं तो आइएये हम आप लोगो को , जन्माष्टमी के मौके पर भगवान श्री कृष्ण से जुड़ी वो बातें बतायेगे , जो हैरान करने वाली हैं और  जिनके बारे में आप नहीं जानते है |


1. कृष्ण के कुल 108 नाम हैं, जिनमें गोविंद, गोपाल, घनश्याम, गिरधारी, मोहन, बांके बिहारी, बनवारी, चक्रधर, देवकीनंदन, हरि, और कन्हैया ये नाम कुछ ज्यादा ही प्रमुख हैं |
2. श्री कृष्ण अपने गुरु संदिपनी को गुरु दक्ष‍िणा देने के लिए श्री कृष्ण ने उनके मृत बेटे को जीवित कर दिया था |
3. श्री कृष्ण की कुल 8 पटरानी और 16108 पत्न‍ियां थीं |
4. देवकी की सातवीं संतान बलराम थे ,आठवीं संतान कृष्ण थे , भगवान ने बाकी छह को भी देवकी से मिलवाया था |
5. श्री कृष्ण से भगवत गीता सबसे पहले अर्जुन ने नहीं, बल्क‍ि हनुमान और संजय ने सुनी थी. हनुमान कुरुक्षेत्र के युद्ध के दौरान अर्जुन के रथ में सबसे ऊपर सवार थे.
6. लोग ऐसा कहते है कि श्रीकृष्ण के मानव अवतार का अंत एक शिकारी के तीर से हुआ था |
7. शेषनाग के अवतार रोहिणी के पुत्र का नाम बलराम था ।

8. राधा बरसाना की रहने वाली थीं, ऐसा कहानियों में वर्णित है लेकिन नंदगोपाल की यह सखि उनकी हमजोली नहीं बल्कि उम्र में उनसे बड़ी थीं, ऐसा बरसाना वाले कहते हैं।

9. श्री कृष्ण के धनुष का नाम शारंग और अस्त्र का नाम सुदर्शन चक्र था।

10. भगवान श्री कृष्ण की गदा का नाम कौमोदकी और शंख को पांचजन्य कहते थे।

11. बलराम का जन्म अष्टमी के दो दिन पहले अर्थात छठ के दिन मनाया जाता है, जिसे कि 'ललई छठ' के रूप में देश में मनाया जाता है।

Chandra Sekhar Azad Facts In Hindi-चन्द्र शेखर के बारे में रोचक तथ्य

1. चंद्रशेखर आजाद का जन्म 23 जुलाई 1906 को मध्य प्रदेश में हुआ था।

2. बेखौफ अंदाज के लिए जाने जाने वाले चंद्रशेखर सिर्फ 14 साल की उम्र में 1921 में गांधी जी के असहयोग आंदोलन से जुड़ गए थे।

3. गांधीजी द्वारा असहयोग आंदोलन को अचानक बंद कर देने के कारण उनकी विचारधारा में बदलाव आया और वे हिन्दुस्तान रिपब्लिकन एसोसिएशन के सक्रिय सदस्य बन गए। 

4. स्वतंत्रता संग्राम के महान नायकों मे से एक चंद्रशेखर आजाद का जन्म मध्य प्रदेश के झाबुआ में हुआ था। जहां आजाद का जन्म हुआ उस जगह को अब आजादनगर नाम से जाना जाता है। 

5. आजाद छोटी उम्र में ही आजादी की लड़ाई उतर गए थे। उन्होंने बचपन में ही निशानेबाजी सीख ली थी।




6. अपनी पहली सजा में आजाद को 15 कोड़े पड़े। आजाद की देशभक्ति का अंदाजा इसी बात से लगाया जा सकता है कि हर कोड़े पर उन्होंने वंदे मातरम के साथ-साथ महात्मा गांधी की जय के नारे लगाए। इसके बाद से ही उन्हें सार्वजनिक रूप से 'आजाद' पुकारा जाने लगा।

7. उनकी पहली सजा मिलने का किस्सा भी दिलचस्प है। कोर्ट में जब उनसे उनके बारे में जानकारी मांगी गई तो उन्होंने ऐसा जबाव दिया जिससे वहां बैठे अंग्रेज सकते में आ गए। उन्होंने अपना नाम आजाद बताया। पिता का नाम स्वतंत्रता और निवास स्थान के नाम पर जेल का नाम लिया। 

8. चौरा-चौरी घटना के बाद जब महात्मा गांधी ने अपना आंदोलन वापस ले लिया तो आजाद समेत कई युवा क्रांतिकारी कांग्रेस ले अलग हो गए और अपना संगठन बनाया। संगठन का नाम हिन्दुस्तानी प्रजातान्त्रिक संघ रखा गया। इस संगठन में देश के नवयुवक क्रांतिकारियों को जोड़ा गया।

9. आजाद ने उसके बाद अन्य क्रांन्तिकारियों को लेकर सरकारी खजानों को लूटना शुरू कर दिया। अंग्रेजों ने भारत की जनता पर अत्याचार कर उनसे जो धन लूटा था वह इन्हीं खजानों में रखा जाता था। रामप्रसाद बिस्मिल और चंद्रशेखर आजाद ने साथी क्रांतिकारियों के साथ मिलकर ब्रिटिश खजाना लूटने और हथियार खरीदने के लिए ऐतिहासिक काकोरी ट्रेन डकैती को अंजाम दिया। इस घटना ने ब्रिटिश सरकार को हिलाकर रख दिया था। 

10. लाला लाजपत राय की मौत का बदला आजाद ने ही लिया था। आजाद ने लाहौर में अंग्रेजी पुलिस अधिकारी सॉन्डर्स को गोली से उड़ा दिया था। इस कांड से अंग्रेजी सरकार सकते में आ गई। आजाद यही नहीं रुके उन्होंने लाहौर की दिवारों पर खुलेआम परचे भी चिपकाए। परचों पर लिखा था कि लाला लाजपत राय की मृत्यु का बदला ले लिया गया है। 

11. आजाद ने कहा था कि वह आजाद हैं और आजाद ही रहेंगे। वह कहते थे कि उन्हें अंग्रेजी सरकार जिंदा रहते कभी पकड़ नहीं सकती और न ही गोली मार सकती है। 

12. 27 फरवरी 1931 को अंग्रेजी पुलिस ने इलाहाबाद के अल्फ्रेड पार्क में आजाद को चारों तरफ से घेर लिया। अंग्रेजों की कई टीमें पार्क में आ गई। आजाद ने 20 मिनट तक पुलिस वालों से अकेले ही लौहा लिया। इस दौरान उन्होंने अपने साथियों को वहां से सुरक्षित बाहर भी निकाल दिया। जब उनके पास बस एक गोली बची तो उन्होंने उसे खुद को मार ली। क्योंकि उन्होंने संकल्प लिया था कि उन्हें कभी भी अंग्रेजी पुलिस जिंदा नहीं पकड़ सकती। 

13. जब आजाद ने गोली मारी तो भी अंग्रेजी पुलिस की उनके पास जाने की हिम्मत नहीं हुई। काफी देर बाद जब वहां से गोली नहीं चली तो अंग्रेजो थोड़ा आगे बढ़े। उनकी नजर आजाद के मृत शरीर पर पड़ी तो उन्हें होश में होश आया। अपनी अंतिम लड़ाई में आजाद ने अंग्रेजों की पूरी टीम के छक्के छुड़ा दिए थे। जिस पार्क में चंद्रशेखर आजाद हमेशा के लिए आजाद हो गए आज उस पार्क को चंद्रशेखर आजाद पार्क के नाम से जाना जाता है।

Wednesday, 26 June 2019

Madhuri Dixit Full HD Image & Photo Download Free Gallery - माधुरी दीक्षित इमेज

Madhuri Dixit Image - माधुरी दीक्षित इमेज

Beautiful  Image Of Madhuri Dixit Image -


Madhuri Dixit Image For Mobile - मोबाइल इमेज माधुरी दीक्षित 


madhuri Dixit Image Full HD - माधुरी दीक्षित इमेज 


Madhuri Dixit Image Of Film - माधुरी दीक्षित फिल्म इमेज


Madhuri Dixit Dance Image - माधुरी दीक्षित  डांस फिल्म 


Madhuri Dixit Image Of  Facebook - माधुरी दीक्षित फेसबुक


Madhuri Dixit Image In Masti - माधुरी दीक्षित इमेज




Maduri Dixit Dance Image - माधुरी दीक्षित इमेज


Madhuri Dixit Smile Image  


Madhuri Dixit Full HD Image


Madhuri Dixit And Anil Kapoor Image


Madhuri Dixit Dance Image In Hindi 


Madhuri Dixit And Priyanka Chopra Image


Madhuri Dixit Cute Smile Image


Madhuri Dixit Image Of  Facebook 


Madhuri Dixit Image Of Mobile 


Madhuri Dixit Image


Madhuri Dixit Image Of Whatsapp


Madhuri Dixit Image In Meeting 


Madhuri Dixit With Kapil Sharma Image


Madhuri Dixit Full HD Image


Madhuri Dixit Image


Madhuri Dixit Best Image


Madhuri Dixit And Preeti  Image


Madhuri Dixit Image

Tuesday, 13 November 2018

Kunjaru samiti - कुंजरू समिति (डा: ह्रदयनाथ कुंजरू)

सन १९५९ में भारत सरकार दारा डा: ह्रदयनाथ कुंजरू की अध्यछ्ता में एक समिति का आयोजन किया गया |  इसका कार्य सरकार को शारीरिक शिक्षा, मनोरंजन एवं विधार्थी अनुशासन जैसे विषयों पर सुझाव देना था ; जिससे कि इन विभिन्न विषयों पर उच्च रूप से ध्यान दिया जा सके | इस समिति ने भारत में गतिमान विभिन्न शारीरिक शिक्षा योजनाओ का अध्ययन किया तथा विभिन्न शिक्षाशास्त्रियो के विचारो को सुना |अन्त में सन १९६३ में इस समिति ने सरकार को अपनी रिपोर्ट पेश की जिसकी कुछ सिफारिशे इस प्रकार है –


1; पाठशाला स्तर पर शारीरिक शिक्षा के पाठ्य विषय सभी के लिये अनिवार्य हो तथा कुछ ऐच्छिक कार्यक्रम विशेषज्ञो दारा बनाये जाये तथा ऐच्छिक कार्यक्रमों ; जैसे – स्काउटीग; पर्वतारोहण ; छेल ; नत्य ; नाटक ; तथा संगीत आदि विषयों में से अन्य का चयन विधार्थी स्वयं करे |

2;  एक बार जब मिला –जुला कार्यक्रम आरम्भ हो जाय तो ए. सी. सी., राष्ट्रीय अनुशासन योजनायें प्रथक रूप से कार्यान्वित की जाये |

3; जो प्रशिक्षक प्रारम्भिक पुरानी योजनाओ पर कार्य कर रहे है, उनकी सेवाए पुर्विकरण के उपरान्त इस कार्य को पूर्ण करने के लिये प्राप्त की जाये |

4; कालेज स्तर पर राष्ट्रीय केडिट कोर को मान्यता दी जाय |

5; स्काउटिग एव गलर्सा गाइड्स आदि परियोजनाओ को मान्यता दी जाय तथा इन्हें स्वेच्छ से अपनाया जाय |

6; विधालय की प्रात: सभा का कार्यक्रम राष्ट्रीय गीत से आरम्भ हो | 

7; प्रत्येक विधार्थी को राष्ट्रीय ध्वज चढ़ाना एव उतारना तथा उसे सलामी देना भी आना चाहिये |

8; विधार्थियों में पैदल चलना तथा सैर की रूचि का विकास भी करना चाहिये |


9; अन्तर विश्वविधालय प्रतियोगिता में भाग लेने के लिये छात्रो को प्रेरित किया जाना चाहिये | 

Tuesday, 6 November 2018

Anushka Sharma Images & Full HD Photo For Free Download